एएमयू खबरें

0
247
ठीक हो कर घर पहुंचे
अलीगढ़ । अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के जवाहर लाल नेहरू मेडीकल कालिज अस्पताल से कोरोना वायरस से संक्रमित दो अन्य रोगियों को स्वास्थ लाभ प्राप्त होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई।
इनमें से 34 वर्षीय एक महिला का इलाज प्रोफेसर जेड0 अहमद तथा डा0 उम्मतुल बनीन ने किया जब कि 45 वर्षीय एक अन्य व्यक्ति का इलाज प्रोफेसर एफ0एस0 हक, डा0 एम0 असलम तथा डा0 उवैस अशरफ ने किया।
कुलपति प्रोफेसर तारिक मंसूर ने इस अवसर पर चिकित्सकेां तथा स्वास्थ कर्मियों के अथक प्रयासों की सराहना की तथा मेडीकल कालिज में रोगियों के बेहतर इलाज पर संतोष व्यक्त किया।
जवाहर लाल नेहरू मेडीकल कालिज के प्रिंसपिल प्रोफेसर शाहिद अली सिद्दीकी ने कहा कि केाविड-19 से ग्रसित 14 रोगी अब तक स्वस्थ होकर मेडीकल कालिज से डिस्चार्ज हो चुके हैं।
उप चिकित्सा अधीक्षक डा0 अब्दुल वारिस के अनुसार जवाहर लाल नेहरू मेडीकल कालिज के आइसोलेशन वार्ड में अभी 16 रोगी भर्ती हैं और उनका इलाज किया जा रहा है।
विदित हो कि अमुवि के जवाहर लाल नेहरू मेडीकल कालिज मंे कोरोना वायरस का टेस्ट निःशुल्क किया जा रहा है तथा गत दिवस 350 टेस्ट किये गये थे।
नोडल आफीसर तथा माइक्रोलोजी विभाग के अध्यक्ष प्रोफेसर हारिस एम0 खान के अनुसार मेडीकल कालिज में अब तक अलीगढ़, मथुरा, नोएडा, आगरा, हाथरस, बुलन्दशहर, मुरादाबाद, रामपुर, कासगंज तथा एटा से प्राप्त होने वाले 10208 नमूनों जाॅच की गई है जिनमें से 232 नमूनों में कोरोना वायरस संक्रमण पाया गया है।
विद्यार्थी घर के लिए रवाना
अलीगढ़ । अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के छात्रावासों में रहने वाले केरल और मणिपुर के छात्रों को दो अलग-अलग बसों से उनके घरों को रवाना किया गया है। मणिपुर के छात्रों को बस से मुराबाद रेलवे स्टेशन भेजा गया जहाॅ से वह मणिपुर को जाने वाली ट्रेन में सवार हुए इसी तरह केरल के छात्रों को बस द्वारा नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पहुॅचाया गया जहाॅ से उन्होंने केरल जाने वाली ट्रेन पकड़ी।केरल और मणिपुर के यह छात्र मई-जून में क्लास या परीक्षा न होने के कारण अपने घर जाना चाहते थे इस लिए अमुवि प्रशासन ने उनके लिए बसों का प्रबंध किया।
अमुवि रजिस्ट्रार श्री अब्दुल हमीद आई0पी0एस0 ने बताया कि मणिपुर के 20 छात्र तथा केरल के 30 छात्र प्रोक्टर कार्यालय से बसों द्वारा रवाना हुए। इस अवसर पर डाक्टरों ने छात्रों का स्वास्थ परीक्षण किया तथा उन्हें खाना पानी उपलब्ध कराया गया। प्रोक्टर प्रोफेसर एम0 वसीम अली तथा प्रोक्टोरियल टीम के अन्य सदस्य इस अवसर पर उपस्थित थें।
इससे पूर्व डी0एस0डब्ल्यू0 प्रोफेसर मुजाहिद बेग ने मणिपुर के छात्रों को 50 बोतल सेनीटाइजर तथा 50 फेस मास्क एवं केरल के छात्रों को 30 बोतल सेनीटाइजर तथा 30 फेस मास्क वितरित किये।
प्रोफेसर बेग ने बताया कि कल साॅय एक विशेष ट्रेन अलीगढ़ से गोहाटी प्रस्थान करेगी। यह ट्रेन पटना और राॅची रेलवे स्टेशन पर भी रूकेगी जिससे अमुवि के छात्र रवाना होंगे।
प्रोफेसर बेग ने आगे बताया कि कल प्रातः पश्चिम बंगाल के छात्रों को एक बस अलीगढ़ से मथुरा रेलवे स्टेशन लेकर जायेगी। उन्होंने बताया कि मथुरा से ट्रेन द्वारा यह छात्र पश्चिम बंगाल अपने घरों को प्रस्थान करेंगे।

भवन भूूूकम्प रोधी हो
अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के जाकिर हुसैन कालिज आॅफ इंजीनियरिंग एण्ड टेक्नालोजी के सिविल इंजीनियरिंग विभाग द्वारा आपदा प्रबंधन एंव आपदा शमन के विषय पर एक दो दिवसीय आॅन लाइन कोर्स का आयेाजन किया गया।
इस कोर्स के उद्घाटन सत्र की अध्यक्षता करते हुए अमुवि कुलपति प्रोफेसर तारिक मंसूर ने कहा कि भवनों के निर्माण में इस बात का विशेष ध्यान रखना चाहिये कि वह भूकम्प प्रतिरोधी हों। उन्होंने कहा कि भारत सहित पूरी दुनियां में इस समय कोरोना महामारी का प्रकोप फैला हुआ है ऐसी स्थिति में आॅन लाइन माध्यम से लोगों को वैज्ञानिक ज्ञान से परिचित कराना विशेषज्ञों का कर्तब्य है।
इससे पूर्व सिविल इंजीनियरिंग विभाग के अध्यक्ष प्रोफेसर अब्दुल बाकी ने विभाग की उपलब्धियों का उल्लेख किया। उन्हांेंने कहा कि आपदा प्रबंधन समय की मांग है तथा विभाग भूकम्प प्रतिरोधक भवनों के डिजाइन के क्षेत्र में परामर्श सुविधायें उपलब्ध करायेगा।
इंजीनियरिंग कालिज के प्रिंसपिल प्रोफेसर एम0एम0 सुफियान बेग ने कहा कि भारत जिस तरह के भौगोलिक एवं जलवायु क्षेत्र में है उसमें विभिन्न प्रकार की आपदायें आती रहती हैं। इस लिए आपदा से निपटने के कारगर उपाय करने ही होंगे।
फैकल्टी आॅफ इंजीनियरिंग एण्ड टेक्नालोजी के डीन प्रोफेसर परवेज मुस्तजाब ने कहा कि आपदायें विश्व की प्रगति के लिए घातक हैं। सभी को इसकी रोकथाम में सहयोग करना होगा ताकि मनुष्य की प्रगति और निर्धनता के उन्मूलन में कोई रूकावट न उत्पन्न हो।
कार्यक्रम के कोआर्डीनेटर प्रोफेसर रेहान ए0 खान ने कोर्स का संक्षिप्त विवरण दिया।
अंत में कोर्स के आयोजन सचिव डा0 रिजवान ए0 खान ने धन्यवाद ज्ञापित किया।
डा0 परवेज एम0 खान कार्यक्रम के टेक्नीकल कोआर्डीनेटर तथा जैद मोहम्मद एवं एम0 मुईनुलहक सह आयेाजन सचिव थे।
नीलामी 30 को
अलीगढ़ । अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के वनस्पति विज्ञान विभाग द्वारा बाॅटनीकल गार्डन (किला) में 80 अमरूद के पेड़ों के फलों तथा नीबू के 10 पेड़ों के फलों की नीलामी 30 मई 2020 (शनिवार) को प्रातः 8ः30 बजे बाॅटनीकल गार्डन (किला) में होगी।
वनस्पति विज्ञान विभाग के अध्यक्ष प्रोफेसर नफीस अहमद खान ने बताया है कि इन फलों के खरी्दार व्यक्ति उक्त स्थान पर पहुॅचकर बोली लगा सकते हैं। उन्होंने कहा कि बोली से पहले खरीदार को मुबलिग रू0 1000/-जमानत धनराशि जमा करनी होगी। जमानत की रकम खरीदार के अलावा बाकी लोगों को नीलाम समाप्त होने के बाद वापस कर दी जायेगी। खरीदार को नीलाम समाप्त होने के बाद पूरी रकम उसी वक्त अदा करनी होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here