एएमयू: भेदभाव छोड़ कर कोरोना से लड़े

0
190
कुलपति ने रमजान में सामाजिक दूरी बनाने की अपील
राजीव शर्मा । अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर तारिक मंसूर ने देश के सभी मुसमलानों से आग्रह किया है कि वह इस रमजा़न कोविड-19 कोरोना वायरस को आगे फैलने से रोकने तथा लोगों की जान बचाने के लिये सामाजिक दूरी बनाने तथा व्यक्तिगत एवं पर्यावरण स्वच्छता के नियमों का सख्ती से पालन करें।
उन्होंने कहा कि यह मानवता के लिये एक कठिन समय है तथा ऐसे में सभी लोगों को धर्म, जाति तथा क्षेत्रीय भेदभाव से ऊपर उठ कर सभी लोगों की सुरक्षा के लिये कार्य करना चाहिए।
प्रोफेसर मंसूर ने कहा कि व्यक्तिगत अनुशासन, अल्लाह के आदेशों के प्रति पूर्ण समर्पण तथा निर्बल वर्ग की सहायता के रमजा़न के उद्देश्यों की पूर्ति, सामाजिक दूरी बनाये रखने तथा लोगों की आर्थिक सहायता कर भलिभांति की जा सकती है। उन्होंने आशा व्यक्त की कि रमजा़न के पवित्र महीने में मस्जिद न जाकर यदि घर पर भी नमाज़ पढ़ी जाए तो यह जीवन रक्षा तुल्य कार्य होगा तथा अल्लाह भी इसे अवश्यक स्वीकार करेंगे।
कुलपति ने अमुवि बिरादरी से विशेष रूप से आग्रह किया है कि वह रमजा़न के पवित्र अवसर पर समाज के आर्थिक रूप से कमजो़र वर्ग के लिये दिल खोल कर दान करें। उन्होंने कहा कि समाज के कामगार वर्ग जो राष्ट्र-व्यापी तालाबंदी के कारण सबसे अधिक प्रभावित हैं, के लिये की गई आर्थिक मदद विशेष रूप से समाज को सशक्त बनाने में सहायक होगी।
समन्वयक नियुक्त
अलीगढ़। अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के कैमिस्ट्री विभाग के प्रोफेसर सरताज तबस्सुम को यूनिवर्सिटी सोफिस्टीकेटिड इंस्ट्रूमेंटेशन फेसिलिटी का समन्वयक नियुक्त किया गया है। उनकी नियुक्ति एक साल अथवा अगले आदेश तक के लिये की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here