एक्सप्रेस वे पर लगे हिस्ट्रीशीटर के पोस्टर

0
127

कानपुर में सीओ समेत आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के मुख्य आरोपी विकास दुबे की तलाश बांके बिहारी की नगरी में सरगर्मी से की जा रही है। पुलिस की नजर मथुरा, वृंदावन, गोवर्धन, बरसाना के गेस्ट हाउस और आश्रमों पर टिक गई है। पुलिस का मानना है कि हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे सुरक्षित स्थान मानते हुए मथुरा में छिपा होगा।  इसलिये पुलिस यमुना एक्सप्रेस-वे पर 24 घंटे वाहनों की चेकिंग कर रही है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ.गौरव ग्रोवर ने पुलिसकर्मियों को दिशा-निर्देश दिए हैं।

हत्यारे की पकड़ के लिए इनाम ढ़ाई लाख

टोल प्लाजा के बूथों पर विकास दुबे पर ढाई लाख रुपये के इनाम के पोस्टर व पम्पलेट लगा दिए हैं। कानपुर मुठभेड़ को पांच दिन बीत चुके हैं, लेकिन अब तक पुलिस विकास दुबे का सुराग नहीं लगा सकी है। विकास दुबे पर इनाम की राशि एक लाख से बढ़ाकर ढाई लाख रुपये कर दी गई है। मथुरा के निकट हरियाणा और राजस्थान की सीमा को देखते हुए एक्सप्रेसवे पर पुलिस सक्रिय हो गई है। बता दें कि कानपुर में हुई मुठभेड़ में मथुरा के लाल जितेंद्र पाल ने शहादत दी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here