एक ही सजा, सिर तन से जुदा, रिपोर्ट दर्ज दर्ज

0
758

उत्तर प्रदेश शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी और डासना देवी मंदिर के महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती के खिलाफ AIMIM की तरफ से विवादित पोस्टर लगाए गए हैं। पोस्टर में दोनों के ही सिर कलम करते दिखाया गया है। पोस्टर पर लिखा  है- एक ही सजा, सिर तन से जुदा। पुलिस ने विवादित पोस्टर को लेकर मामला दर्ज कर लिया है।
बताते चलें कि नरसिंहानंद सरस्वती और वसीम रिजवी को लेकर जारी पोस्टर को सोशल मीडिया में काफी शेयर किया जा रहा है। गौरतलब है कि इससे पहले मध्य प्रदेश की बालाघाट में भी उनके खिलाफ पोस्टर लगाए गए थे। जिसके बाद पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार किया था। महंत के पोस्टर लगाए जाने पर विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल की तरफ से शिकायत की गयी थी। सभी गिरफ्तार आरोपियों के विरुद्ध धारा 153-ए, 295-ए और 34 के आधार पर केस दर्ज कर लिया गय।: इससे पहले बरेली के इस्लामिया ग्राउंड में जुमे की नमाज के बाद बड़ी संख्या में लोग आये थे और सभी ने यति नरसिंहानंद के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की।
वसीम रिजवी से भी हैं लोग नाराज: उत्तर प्रदेश शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी की तरफ से याचिका दायर की गयी थी कि कुरान की 26 आयते आतंक को बढ़ावा देती है, उन्हें हटा दिया जाना चाहिए। जिससे कि आतंकी गतिविधियों में मुस्लिम समुदाय का नाम न जुड़ सके।
हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने कुरान की आयतों के खिलाफ याचिका को खारिज कर दिया है। इसके साथ ही अदालत ने उनके ऊपर पचास हजार रुपये जुर्माना भी लगाया है।याचिका के बाद से वसीम रिजवी का कई मुस्लिम संगठनों ने विरोध किया है। खुद रिजवी के परिवार के लोगों ने भी उनका विरोध किया है। रिजवी की मां और भाई ने उनसे अपना नाता तोड़ लिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here