कानपुर मुठभेड़: शहीद पुलिसकर्मियों के परिजनों को एक-एक करोड़ रुपए और सरकारी नौकरी देंगे: योगी

0
381

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बदमाशों के साथ हुई मुठभेड़ में शहीद हुए आठ पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि दी। वे कानपुर गये और शहीदों के परिजनों से मुलाकात कर सांत्वना दी। सीएम योगी और डिप्टी सीएम घायल पुलिसकर्मियों को देखने के लिए अस्पताल भी पहुंचे और उनका हाल जाना। सीएम ने कहा कि हमारे 8 जवानों की मौत हुई है और दो बदमाश भी मारे गए हैं। हमारे पुलिसकर्मियों की कुर्बानी व्यर्थ नहीं जाएगी। जो भी दोषी होगा, उसे छोड़ा नहीं जाएगा।

कानपुर में देर रात हिस्ट्रीशीटर को पकड़ने गई पुलिस टीम पर बदमाशों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। इसमें सीओ समेत आठ पुलिसकर्मी शहीद हो गए। चार पुलिसकर्मी घायल भी हैं। घटना कानपुर में चौबेपुर थाना क्षेत्र के बिकरू गांव की है। यहां पुलिस बदमाश विकास दुबे को पकड़ने गई थी। बाद में पुलिस ने हमला करने वाले दो बदमाशों को मार गिराया है। अभी भी मुठभेड़ जारी है और विकास दूबे की तलाश की जा रही है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना में शहीद पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि देते हुए मामले की पूरी रिपोर्ट तलब की है और बदमाशों को तुरंत पकड़ने के आदेश दिए हैं।

विकास दुबे की मौत की उड़ी अफवाह
सोशल मीडिया पर अफवाह उड़ने लगी कि विकास दुबे भी मारा गया है। कानपुर पहुंचे यूपी के डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी ने इस बात से साफ इंकार किया कि विकास मारा गया है। उन्होंने कहा कि किसी भी अपराधी को छोड़ा नहीं जाएगा। विकास दुबे के एनकाउंटर की खबर पर औरैया एसपी सुनीत हतप्रभ ने कहा कि पुलिस के काम को डाइवर्ट करने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि सभी अधिकारी विकास को पकड़ने के लिए प्रयासरत हैं, जिसने भी फर्जी एनकाउंटर की खबर फैलाई है उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने लोगों से अफवाह पर ध्यान ना देने की भी बात कही।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here