किसानों को क्रय केंद्र पर बिक्री के लिये प्रशिक्षित करें: मण्डलायुक्त

0
103

मण्डलायुक्त ने धनीपुर मण्डी में बने क्रय केन्द्रों का किया निरीक्षण

अलीगढ़। मण्डलायुक्त गौरव दयाल द्वारा बुधवार को धनीपुर मण्डी स्थित गेंहू क्रय केन्द्रों का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान सम्भागीय खाद्य नियंत्रक अशोक पाल मौजूद रहे। सर्वप्रथम कमिश्नर द्वारा खाद्य विभाग के क्रय केन्द्र का निरीक्षण किया गया। क्रय केन्द्र पर केन्द्र प्रभारी श्रीमती खूशबू वार्ष्णेय उपस्थित मिलीं। केन्द्र पर 02 इलेक्ट्रानिक कांटे, छलना, पंखा, नमी मापक यंत्र, पावर डस्टर आदि व्यवस्थायें उपलब्ध पायीं गयीं। क्रय केन्द्र पर 500 बोरा प्राप्त हुआ था, निरीक्षण में नानऊ निवासी श्री कृष्ण कुमार से गत 04 अपै्रल 2022 को 85 कुन्तल गेहूं की खरीद पायी गयी। निरीक्षण के समय क्रय केन्द्र पर किसानों की आवक नहीं मिली।
मौके पर उपस्थित मण्डी सचिव ने बताया गया कि अभी मण्डी में गेहूं की आवक मात्र 600-700 कुन्तल प्रतिदिन की है। पीसीएफ संस्था के क्रय केन्द्र पर भी बोरे एवं अन्य व्यवस्थायें पूर्ण पायी गयी, परन्तु खरीद शून्य पायी गयी। मण्डलायुक्त ने निर्देशित किया गया कि जो भी किसान सरकारी क्रय केन्द्र पर गेहूं लेकर आयें, उनका गेहूं तत्काल तौल लिया जाये एवं किसान को किसी भी प्रकार की असुविधा न होने पाये। मण्डी सचिव को निर्देशित किया गया कि सरकारी क्रय केन्द्रों पर बिक्री करने के लिये किसानों को प्रोत्साहित किया जाये, जिसके लिए मण्डी के मुख्य द्वारा पर किसानों को सूचित किया जाये कि सरकारी क्रय केन्द्रों पर गेहूं की बिक्री करें। किसानों को किसी प्रकार की समस्या न होने पाये एवं किसानों के बैठने, पीने के पानी जैसी मूलभूत सुविधाओं की व्यवस्था सुनिश्चित रहे।

शासकीय सहायता का उपयोग कर अभिभावक बच्चों को निर्धारित स्कूल ड्रेस में भेजें विद्यालय

जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी सतेन्द्र कुमार ने अवगत कराया है कि शैक्षिक सत्र 2021-22 में परिषदीय विद्यालयों एवं अशासकीय सहायता प्राप्त प्राथमिक, पूर्व माध्यमिक विद्यालयों में कक्षा-1 से 8 तक अध्ययनरत छात्र-छात्राओं के उपयोगार्थ निःशुल्क यूनीफार्म, स्वेटर, स्कूल बैग एवं जूता-मोजा के क्रय से सम्बन्धित धनराशि का डी0बी0टी0 (Direct Benefit Transfer) के माध्यम से सीधे उनके माता/पिता/अभिभावक के आधार सीडेड बैंक खाते में हस्तान्तरण किया गया है। प्रायः यह देखा गया है कि परिषदीय एवं अशासकीय सहायता प्राप्त प्राथमिक, पूर्व माध्यमिक विद्यालयों में नामांकित छात्र-छात्राओं द्वारा शासन द्वारा निर्धारित यूनीफार्म एवं जूता-मोजा पहनकर एवं स्कूल बैग के साथ विद्यालय में नही आ रहे है।
बीएसए ने शैक्षिक सत्र 2022-23 आरम्भ होने के आलोक में परिषदीय विद्यालयों एवं अशासकीय सहायता प्राप्त प्राथमिक, पूर्व माध्यमिक विद्यालयों नामांकित छात्र-छात्राओं के माता/पिता/अभिभावको से बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा अपील की है कि शासन द्वारा डी0बी0टी0 (Direct Benefit Transfer) के माध्यम निःशुल्क यूनीफार्म,जूता-मोजा, स्कूल बैग एवं स्वेटर क्रय किये जाने हेतु हस्तांतरित धनराशि 1100 रूपये प्रति छात्र का सदुपयोग कर बच्चों को शासन द्वारा निर्धारित यूनीफार्म एवं जूता-मोजा पहनाकर स्कूल बैग के साथ विद्यालय में भेजना सुनिश्चित करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here