कोरोना वायरस युद्ध का संकेत!

0
179

कोरोना वायरस कोई हल्के में नहीं लेना चाहिए। यह बीमारी विश्व युद्ध की चेतावनी भी दे रही है। दुनिया के 200 देश प्रभावित हैं।  चीन नम्बर वन बनने की होड़ में  लगा। अब चीन के खिलाफ अमेरिका, फ्रांस और अन्य देशों ने कमर कस ली है। वर्ष 2022 तक परिणाम भी सामने आएंगे।

चीन की गंदी और घिनोनी सोच पूरी दुनिया के सामने आ गई है। जनवरी में इसका प्रयोग किया। चीन ने इसकी भनक किसी को नहीं लगने दी। बाद में पता चला और वह बहाने बनाने लगा। उसकी मंशा सिर्फ दुनिया में पहला स्थान पाने की रही। इसके लिए लोगों की जान की कोई कीमत नहीं देखी। किसी दौर में राक्षस भी किसी जान की कोई कीमत नहीं समझते थे। आखिर उनका अंत होता रहा। चीन में बिल्ली, कुत्ता और अन्य जानवरों का मांस खाया जाता है। अगर इसे राक्षस सँस्कृति कहें तो इसमें  अतिश्योक्ति  कोई नहीं है। शुरू में मौत का आंकड़ा छुपाया गया। बाद में पोल खुली और एक साथ बढ़ा दिया।

चीन की हरकत कोई नई नहीं है। वह नम्बर वन बनने की होड़ में है। अमेरिका और कई देश को पछाड़ने के लिए रचा गया प्रपंच एक नया विश्व युद्ध की रेखा खींच गया है। शायद अब इसे पाटना सम्भव नहीं होगा। कई देशों ने चीन से कम्पनियों को हटाने का निर्णय ले लिया है। बस कोरोना वायरस के थमने पर अलग रास्ता भी चुन लिया जाएगा।

अमेरिका ने कह भी दिया है यह एक युद्ध है। अमेरिका का कहना कोई हल्का नहीं है। इतिहास गवाह है अमेरिका युद्ध की कहता है और करता भी है। सभी देश यह भी जान गये प्रकृति की मार और वायरस की अलग अलग पहचान है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here