देश के लिए 21 दिन का लॉक डाउन जरूरी: मोदी

0
123
प्रधानमंत्री ने देश को किया सम्बोधित
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देेेशवासियों से 21 दिन का समय देश के लोगों से मांग है। कोरोना वायरस से जिस तरह अन्य देशों में लोग अपनी जान खो रहे हैं, इसी से निष्कर्ष निकाला जाए लापरवाही बहुत ही खतरनाक होगी। इसलिए मंगलवार की रात 12 बजे से 14 अप्रैल तक देश लॉक डाउन रहेगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि हमें भी ये मानकर चलना चाहिए कि हमारे सामने यही एक मार्ग है- हमें घर से बाहर नहीं निकलना है। चाहे जो हो जाए, घर में ही रहना है।  उन देशों से मिले अनुभव हैं जो कोरोना को कुछ हद तक नियंत्रित कर पाए।यही वजह है कि चीन, अमेरिका, फ्रांस, जर्मनी, स्पेन, इटली-ईरान जैसे देशों में जब कोरोना वायरस ने फैलना शुरू किया, तो हालात बेकाबू हो गए।

पीएम ने बताया कैसे फैलती गई महामारी
सोचिए, पहले एक लाख लोग संक्रमित होने में 67 दिन लगे और फिर इसे 2 लाख लोगों तक पहुंचने में सिर्फ 11 दिन लगे। ये और भी भयावह है कि दो लाख संक्रमित लोगों से तीन लाख लोगों तक ये बीमारी पहुंचने में सिर्फ चार दिन लगे। आपको ये याद रखना है कि कई बार कोरोना से संक्रमित व्यक्ति शुरुआत में बिल्कुल स्वस्थ लगता है, वो संक्रमित है इसका पता ही नहीं चलता। इसलिए ऐहतियात बरतिए, अपने घरों में रहिए।
घर में रहें, घर में रहें और एक ही काम करें कि अपने घर में रहें। साथियों, आज के फैसले ने, देशव्यापी लॉकडाउन ने आपके घर के दरवाजे पर एक लक्ष्मण रेखा खींच दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here