मध्यप्रदेश: सेंध लगाने के बाद होगी भाजपा की नैया पार

0
135

 

Madhyapradesh_Legislative_Assembly

राजीव शर्मा। मध्यप्रदेश में सत्ता पाना हर किसी के बूते की बात नहीं है। भाजपा सरकार तभी बना पायेगी जब वह निर्दलीय और सपा बसपा विधायक में सेंध लगाने में कामयाब रहेगी। उधर कांग्रेस के छह विधायकों का इस्तीफा स्वीकार कर लिया गया है।अब सपा, बसपा और चार निर्दलीय विधायक तय करेंगे ।

ज्योतिरादित्य के काफिले पर13 मार्च को पथराव हुआ।  जिससे कमलनाथ सरकार के खिलाफ भाजपा ने मोर्चा खोल दिया। विधानसभा अध्यक्ष नर्मदा प्रसाद प्रजापति ने कांग्रेस के छह विधायकों का इस्तीफा स्वीकार कर लिया। यह सभी कमलनाथ मंत्रिमंडल में शामिल थे। लेकिन छह इस्तीफे स्वीकार होने के बाद सदन में कांग्रेस की सदस्य संख्या 114 से घटकर 108 रह गई हैअब यदि विधानसभा अध्यक्ष सिंधिया गुट के बाकी विधायकों के इस्तीफे स्वीकार नहीं करते हैं तब भी बहुमत के लिए कांग्रेस को काफी जोर लगाना होगा।

मध्यप्रदेश विधानसभा 

कुल सीटें: 230
खाली सीटें: 2

13 मार्च तक संख्या बल
कांग्रेस: 114
भाजपा: 107
बसपा: 2
सपा: 1
निर्दलीय: 4

कांटेदार टक्कर
कांग्रेस: 108
भाजपा: 107
बसपा: 2
सपा: 1
निर्दलीय: 4
(अब बहुमत के लिए 112 संख्या बल चाहिए)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here