मस्जिद में बम बना रहे आतंकी खुद काल के गाल में समाये, 30 मरे

0
345

अफगानिस्तान में शनिवार को कुछ तालिबानी आतंकियों ने अनहोनी करने का षड्यंत्र रचा। जो उन्हीं पर भारी पड़ा।  एक मस्जिद के अंंदर तालिबानी आतंकी बम बनाने का प्रशिक्षण ले रहे थे। उन्हें यह प्रशिक्षण लेना भारी पड़ गया क्योंकि इसी दौरान वहां गलती से एक बम फट गया। इस धमाके में 30 आतंकियों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा।
अफगानिस्तान में एक मस्जिद के अंंदर तालिबानी आतंकी बम बनाने का प्रशिक्षण ले रहे थे। उन्हें यह प्रशिक्षण लेना भारी पड़ गया क्योंकि इसी दौरान वहां गलती से एक बम फट गया। इस धमाके में 30 आतंकियों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा।

अफगानिस्तान की सेना ने एक बयान जारी कर इस घटना की जानकारी दी। सेना की तरफ से कहा गया है कि यह बम धमाका देश के बाल्ख प्रांत में हुआ। सेना ने बताया कि इस घटना में मारे गए 30 आतंकियों में से छह विदेशी थे।

सेना ने कहा कि यह छह विदेशी आतंकी बारुदी सुरंग बनाने के विशेषज्ञ थे और शनिवार को वे 26 अन्य आतंकियों को बम बनाने की ट्रेनिंग दे रहे थे। बताया जा रहा है कि यह विस्फोट बाल्फ प्रांत के दौलताबाद जिले के कुल्ताक गांव में हुआ।

सेना के प्रवक्ता ने कहा कि तालिबान आतंकियों के एक समूह को दौलताबाद जिले के कुल्ताक गांव में बम बनाने का प्रशिक्षण दिया जा रहा था। इसी दौरान अचानक से बम फट गया और 30 आतंकी मौत की नींद सो गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here